Friday, September 3, 2021

रेप पीड़िता बनी मां तो पिता ने उठाया ये खौफनाक कदम !

अहमदाबाद। बेटी अगर मां बने तो उसके माता-पिता को खुशी होती है लेकिन गुजरात में एक पिता ने अपनी बेटी के मां बनने पर जान देने की कोशिश की। दरअसल, यह लड़की दुष्कर्म पीड़िता थी और इसके बाद गर्भवती हो गई थी। मामला गुजरात के वड़ोदरा का है जहां दुष्कर्म की शिकार बनी नाबालिग लड़की के बालक को जन्म दिया।

पुलिस ने बताया कि 8 महीने पहले दुष्कर्म का शिकार हुई पीड़िता ने रविवार को एसएसजी अस्पताल में बालक को जन्म दिया, जिससे दुखी लड़की के पिता ने अस्पताल के शौचालय में ब्लेड से हाथ की नस काट ली। सही समय पर इलाज होने पर उन्हें बचा लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक भरुच तहसील में रहते किसान की 16 वर्षीय नाबलिग लड़की से 8 महीने पहले गांव के एक युवक ने दुष्कर्म किया था। समाज में बदनामी के डर से उसके माता-पिता चुप थे। लेकिन कुछ दिनों बाद गांव वालों को घटना के बारे में पता तो उन्होंने नबीपुर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी सतीष वसावा (25) को गिरफ्तार कर लिया।

नबीपुर पुलिस ने बताया कि एक पेट में दर्द होने से परिजन उसे अस्पताल ले गये जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद बताया था कि पीड़िता के पेट में तीन महीने का गर्भ है। पीड़िता की उम्र छोटी होने से बच्चा गिराने से उसकी जान जा सकती थी। इसलिए उसने बाच्चे को जन्म देने का फैसला किया।

रविवार को पीड़िता ने शहर के एसएसजी अस्पताल में बालक को जन्म दिया। पुलिस ने बताया कि बालक के जन्म के बाद उसके पिता दुखी हो गए उन्होंने अस्पताल में शौचलय जाकर ब्लेड से हाथ की नस काट ली। अस्पताल के सिक्युरिटी गार्ड ने यह देख लिया। अस्पताल प्रशासन ने तुरंत ही उसका इलाज शुरू कर दिया। फिलहाल उसकी हालत स्थित है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।