Tuesday, September 7, 2021

रेनू के इलाज का खर्चा उठाएंगे सीएम अखिलेश यादव

BASTI RENUलखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन/राघवेंद्र सिंह)।। बस्ती जिले में एक मजदूर की बेटी रेनू के इलाज का खर्चा अब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उठाएंगे। उन्होंने रेनू के इलाज के लिए आने वाले हर खर्च को देने का भरोसा दिया है। इसके बाद उसे माता पिता के साथ कैबिनेट मंत्री राजकिशोर सिंह ने एंबुलेंस पर बैठाकर लखनऊ के लिए भेजा है। उसका इलाज अब केजीएमयू में होगा।

जानकारी के मुताबिक, बहादुरपुर ब्लॉक के कुसरौत गांव की रेनू के सिर में एक बड़ा ट्यूमर है, जिसके चलते उसका जीवन खतरे में पड़ता जा रहा है। चार साल की रेनू के माता-पिता गरीब हैं और मजदूरी करते हैं। उसके इलाज को लेकर पिछले दो साल से स्थानीय स्तर पर बहुत कोशिश की गई, लेकिन सबकुछ फेल रहा। स्थानीय लोगों ने चंदे के पैसे से इलाज भी करवाना चाहा, इसके बाद भी उतने पैसों का इंतजाम नहीं हो पा रहा था कि वह बच्ची को बस्ती जिले से बाहर किसी बड़े अस्पताल में दिखा सकें।

बताते हैं कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की भी निगाह चार साल की रेनू पर पड़ी तो वह फैरन इलाज के लिए तैयार हो गए। अब ऐसी उम्मीद है कि रेनू को एक बार फिर नया जीवन मिलेगा, रेनू एक ऐसे मां-बाप की संतान है, जिसके माता-पिता मजदूरी से गुजारा करते हैं।

रेनू के माता-पिता बताते हैं कि रेनू के जन्म के समय से ही ऐसा है। कुछ समय तक तो रेनू सभी के साथ हंसती खेलती थी, लेकिन जैसे-जैसे रेनू की उम्र बढ़ती गई, उनके परिवार का तनाव भी बढ़ता गया। जब उन्होंने डाक्टरों को दिखाया तो पता चला कि उसके सिर में ट्यूमर हैं। पहले छोटे आकार में बना ट्यूमर अब खतरनाक स्टेज में पहुंच गया है। क्यों कि इस ट्यूमर ने रेनू के सोचने और समझने की शक्ति को भी कम कर दिया है। निर्धन मां बाप को इस बात की चिंता सताने लगी कि रेनू अब उनके साथ ज्यादा दिन नहीं रह सकेगी, लेकिन जब मीडिया में खबर आई तो मंत्री राजकिशोर सिंह ने उसके इलाज को लेकर मुख्यमंत्री को जानकारी दी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने रेनू के इलाज के लिए पूरी तरह से मदद का भरोसा दिया है। रेनू का पूरा परिवार मुख्यमंत्री को धन्यवाद दे रहा है।

फोटोः चार साल की पीड़िता रेनू मां के साथ।