Tuesday, September 7, 2021

बॉथरूम में सेनेटरी पैड मिला तो छात्राओं के कपड़े उतरवाकर ली गई तलाशी !

New Delhi. एक सरकारी कन्या मिडिल स्कूल के बाथरूम में सेनेटरी पैड मिलने के बाद छात्राओं के कपड़े उतरवाकर तलाशी ली गई। प्रताड़ित छात्राओं के अभिभावकों की शिकायत के बाद एसडीएम पूनम सिंह ने स्कूल में पहुंचकर जांच की। मामला मुख्यमंत्री दरबार भी पहुंच चुका है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मामले की जांच सोमवार तक पूरी करने के साथ-साथ मामले में आरोपित दो टीचरों के तबादले के आदेश दिए हैं।

सेनेटरी पैड

स्कूल के बाथरूम में दो दिन पूर्व सेनेटरी पैड मिले थे। एक अध्यापिका को जब इसका पता चला तो उन्होंने 7वीं की छात्राओं से इस बारे में पूछताछ की तथा कहा कि इससे फ्लश जाम हो जाती है। इसके बाद उन्होंने आठवीं कक्षा की छात्राओं को बुलाकर तलाशी लेने को कहा गया। छात्राओं का आरोप है उनकी कपड़े उतारकर तलाशी ली गई।

छात्राओं ने यह बात परिजनों को बताई। परिजनों ने इस बारे में स्कूल हेड से बात की तो उन्होंने अफसोस जताते हुए आरोपित अध्यापिका से बात करने का आश्वासन दिया। इसके बाद स्कूल मैनेजमेंट कमेटी की चेयरमैन इंद्रजीत कौर व एसडीएम को सूचित किया। मामले को गंभीरता को देखते हुए एसडीएम पूनम सिंह, सरकारी अस्पताल की डॉक्टर शैली अरोड़ा, पंजाब पुलिस की सब इंस्पेक्टर सुनीता रानी गांव में पहुंचे और छात्राओं, उनके अभिभावकों व अध्यापकों के बयान लिए।

छुट्टी पर गई आरोपित अध्यापिका

अधिकारियों को स्कूल हेड कुलदीप कौर ने बताया कि आरोपित अध्यापिका छुट्टी पर चली गई है। उनके आने के बाद मामले की असलियत पता चलेगी। उन्हें तो इस बारे में छात्राओं के अभिभावकों से पता चला। डीईओ के आदेशों पर प्रिंसिपल मोहन लाल शर्मा भी मामले को देखने स्कूल पहुंचे।

डर के कारण स्कूल नहीं जा रही छात्राएं

अभिभावकों का कहना है कि दो दिन से छात्राएं डर के कारण स्कूल नहीं जा रहीं। शिकायत करने के कारण उन्हें प्रताड़ित किए जाने का डर सता रहा है। एसडीएम ने छात्राओं को स्कूल जाने को प्रेरित किया व कहा कि उन्हें कोई कुछ नहीं कहेगा और अगर अध्यापिका ने यह कार्य किया है तो उसे सजा भी मिलेगी।