Tuesday, September 7, 2021

डेंगू से सात साल की बच्ची की मौत, बिल देखकर परिजनों के उड़े होश

new delhi. private Hospital में किस तरह मरीज के परिजनों से वसूली की जा सकती है इसकी मिसाल आद्या नामक सात वर्षीय बच्ची का केस है। दिल्ली के द्वारका में रहने वाले जयंत सिंह की बेटी आद्या को डेंगू की वजह से पहले राकलैंड और बाद में फोर्टिस Hospital में भर्ती कराया गया था। -dainikdunia.com

 

डेंगू

 

बिल 18 लाख रुपये आया

बच्ची करीब 15 दिन Hospital में रही और इस दौरान उसका इलाज का खर्च एक लाख रुपये रोजाना के आसपास आया। Hospital का बिल लगभग 18 लाख रुपये आया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जय प्रकाश नड्डा ने मामले के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद ट्वीट किया कि वे जांच कराने के बाद जरूरी कार्रवाई करेंगे।

 

ALSO READ. चुनाव से पहले अखिलेश को बड़ी कामयाबी, पूर्व सांसद सहित कई नेता सपा..!

 

आद्या के पिता jayant का कहना है कि उन्होंने बेटी की मौत के बाद सारा पैसा Hospital को चुका दिया पर जब बिल देखा तो उन्हें बेहद तकलीफ हुई। जरा जरा सी सुविधाओं के लिए Hospital ने अनाप-शनाप पैसा वसूला।

डेंगू

27 अगस्त को बेहद तेज बुखार

पिता ने बताया कि आद्या को 27 अगस्त को बेहद तेज बुखार हो गया था। उन्होंने उसे द्वारका के राकलैंड Hospital में भरती करा दिया। वहां उन्होंने देखा कि स्वाइन फ्लू का मरीज भी उसी रूम में है।

 

ALSO READ. VIDEO: डस्टबिन में पड़े होते राहुल गांधी, अगर वो ‘गांधी’ नहीं होते

वेंटिलेटर पर रख दिया गया

उन्होंने कमरा बदल लिया। 31 august को टेस्ट से पता चला कि आद्या को टाइप फोर डेंगू है तो उन्होंने गुरुग्राम के फोर्टिस Hospital जाने का फैसला किया। वहां जाते ही उसे वेंटिलेटर पर रख दिया गया और इसकी जानकारी परिजोनों को नहीं दी गई।

 

-FILE PHOTO