Wednesday, September 1, 2021

पत्नी के अवैध संबंध का था शक, तो पंचायत ने करवाई अग्निपरीक्षा !

लखनऊ. एक युवक ने अपनी पत्नी के चरित्र पर शक जताया। दोनों के विवाद पर पंचायत बैठी। इसमें महिला तांत्रिक ने अग्निपरीक्षा करा दी। दोनों के हाथ पर जलती आग रख दी। बताया जो सच्चा होगा वो नहीं जलेगा, लेकिन दोनों ही झुलस गए। अब तांत्रिक फरार है। उधर महिला के पिता ने अपने ससुरालियों पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया है।

पत्नी के अवैध संबंध का था शक, तो पंचायत ने करवाई अग्निपरीक्षा !

मांट के जावरा के खंड नगला बरी निवासी दो भाइयों यशवीर और जयवीर की शादी करीब 18 माह पूर्व सादाबाद के गांव नगला फत्ते निवासी किशन सिंह की दो बेटियों पुष्पा और शिवानी के साथ हुई थी। बताया गया कि जयवीर और शिवानी के मध्य शुरू से अनबन रही। शिवानी का आरोप है कि उसका पति उसके चरित्र पर शक करता है। उससे आए दिन बुरी तरह पीटता है।

18 अक्तूबर को शिवानी के एक अन्य जीजा धांसू के घर पर गांव में ही इस मामले को लेकर पंचायत की गई। इसमें गांव के करीब 200 लोग मौजूद थे। पंचायत में स्वयं को तांत्रिक बताने वाली एक महिला भी मौजूद थी। उसने अग्निपरीक्षा देने को कहा। बोली, पति-पत्नी दोनों के हाथ पर जलती आग रखी जाए, जिसका हाथ जल जाएगा वो दोषी माना जाएगा। पहले जयवीर के हाथ पर आग रखी गई। इसमें उसके हाथ झुलस गए। उसने आग को फेंक दिया। इसके बाद शिवानी के हाथ पर आग रखी गई तो वो भी झुलस गई। यहीं पर पंचायत समाप्त हो गई।

इस मामले में शिवानी के पिता ने बेटी का दहेज के लिए उत्पीड़न करने और मारपीट करने का आरोप लगाते हुए ससुर बनवारी के अलावा यशवीर, जयवीर, सास और दो ननदों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। एसएसआई गिरीश कुमार ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

सीओ मांट जगवीर सिंह चौहान के अणुसार, पति-पत्नी के बीच विवाद पर पंचायत हुई थी। इसमें दोनों के हाथ जलने की बात सामने आई है। पंचायत कराने वालों और महिला तांत्रिक दोनों की तलाश की जा रही है।