Tuesday, August 31, 2021

कानपुर की सिविल अदालतों का बम से उड़ाने की धमकी, इस चिट्ठी से मची सनसनी !

कानपुर। आतंकवादी के पकड़े जाने के बाद से आतंकी गतिविधियों को लेकर संवेदनशील बने शहर में अब सिविल कोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। अदालत में पहुंचे अंतरदेशीय पत्र पर लिखी धमकी भरी इबारत को पढ़कर न्यायिक अफसरों ने भी गंभीरता से लिया है, वहीं कोतवाली पुलिस ने भी प्राथमिक छानबीन शुरू की है। पत्र किसने भेजा है, उसका पता लगाने में पुलिस जुट गई है। कोर्ट अधिकारियों ने पुलिस के साथ कचहरी की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया और डॉग स्क्वायड को भी बुलाया है।

पत्र खोलकर पढ़ते ही फैली सनसनी

शहर में पिछले माह एक आतंकवादी की गिरफ्तारी के बाद एटीएस भी आतंकी गतिविधियों को लेकर पड़ताल कर रही है। वहीं स्थानीय पुलिस भी पूरी तरह से सतर्कता बरत रही है। इस दरमियान मंगलवार को सिविल कोर्ट में साधारण डाक से अंतरदेशीय पत्र मिला। प्रशासनिक अधिकारियों ने पत्र खोलकर पढ़ा तो सनसनी फैल गई। इसमें सभी सिविल कोर्टों को बम से उड़ाने की धमकी की बात लिखी थी।

इसकी जानकारी आनन फानन न्यायिक अधिकारियो को दी गई। इसके बाद प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को सूचना दी गई। न्यायिक अधिकारी भी पुलिस के साथ परिसर का निरीक्षण करने निकल पड़े।

पत्र भेजने वाले ने खुद को भ्रष्टाचार से पीडि़त बताया

दीवानी न्यायालय परिसर में धमकी भरे पत्र के बारे में जिसे भी जानकारी हुई वह ठिठक गया। कुछ अधिवक्ताओं के पास तक भी धमकी भरे पत्र की जानकारी पहुंची तो माहौल दहशत भरा हो गया।

कोर्ट सूत्रों के मुताबिक पत्र के जरिए अदालत में भ्रष्टाचार की बात कहते हुए सभी सिविल न्यायालय को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। पत्र भेजने वाले ने खुद को कोर्ट के भ्रष्टाचार से पीडि़त बताया है और तीस अक्टूबर तक सभी सिविल कोर्ट बम से उड़ा देने की बात कही है।

इस पत्र पर किसी संगठन का नाम दर्ज है, जिसपर अन्यायी जज मारो लिखा है। कोर्ट अधिकारियों ने पुलिस के आला अफसरों को सूचना देकर उचित कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।

कोतवाली प्रभारी प्रमोद शुक्ला ने बताया कि जानकारी कोर्ट परिसर की छानबीन कराई जा रही है। वहीं पत्र की जांच कर भेजने वाले के बारे में पता लगाया जा रहा है।

threat blowing bomb civil courts kanpur