Monday, September 6, 2021

EXCLUSIVE: मंत्री बने रहना है, तो MLC जिताकर लाओः मुलायम

12728980_1013252592080500_5913263732656971784_nलखनऊ (अखिलेश कृष्ण मोहन) ।। एमएलसी चुनाव में जीत के लिए समाजवादी पार्टी के मंत्री और विधायकों ने दिनरात एक कर दिया। पार्टी के सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव का सख्त निर्देश है कि यदि मंत्री पद पर बने रहना चाहते हो, तो अपने इलाके का एमएलसी जिताकर लाओ, नहीं तो मंत्री पद की कुर्सी चली जाएगी। नेताजी की इस चेतावनी से पार्टी के मंत्रियों में हड़कंप है। वह दिनरात कर इलाके में दौरा कर रहे हैं।

लखनऊ और सीतापुर की एमएलसी सीट के साथ ही करीब आधा दर्जन सीटों पर सपा ने निर्विरोध जीत दर्ज की है। इसके साथ ही समाजवादी पार्टी का एमएलसी लाओ अभियान और तेज हो गया है। पार्टी के बड़े और छोटे सभी नेता एक सुर में पार्टी की हाईकमान के निर्देश पर काम कर रहे हैं, यही वजह है कि जिन नेताओं ने विरोध का बिगुल फूंकने की कोशिश की उन्हें मुख्यमंत्री और कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने पहले ही समझा दिया कि बगावत पार्टी को बर्दाश्त नहीं है।

समाजवादी पार्टी के लिए इस बार एमएलसी चुनाव में बड़े पैमाने पर जीत दर्ज करना काफी अहम भी है। नेताजी ने पहले ही टारगेट दे दिया है कि उन्होंने मुख्यमंत्री रहते हुए 36 में 31 सीटें जीती थी। इसमें से 29 सीटें सीधे और दो सीटें अन्य दलों के साथ समझौते से थीं। इसको लेकर नेताजी ने हाल ही में पार्टी मुख्यालय में कहा था कि यदि दम है, तो पार्टी के नेता और कार्यकर्ता उनके इस रिकॉर्ड को तोड़कर दिखाएं।

लखनऊ में पाए गए मंत्रीजी तो खैर नहीं

पार्टी सुप्रीमो और मुख्यमंत्री का सख्त निर्देश है कि विधायक और मंत्री जहां पर चुनाव होने हैं, वहां के इलाकों में जनसंपर्क अभियान चलाएं। वह राजधानी लखनऊ में रहकर समय को बर्बाद न करें। इसके बाद भी यदि कोई नेता या मंत्री लखनऊ में पाया जाता है, तो उसके ऊपर कार्रवाई की जाएगी। इसको लेकर पार्टी के अंदर ही रिपोर्ट देने वालों की जिम्मेदारी तय की गई है। हाल ही में एक मंत्री को सख्त हिदायत देते हुए इलाके में भी भेजा गया है।

एमएलसी में सबसे अधिक सीटों पर कब्जा करने के बाद समाजवादी पार्टी की विधान परिषद में भी बहुमत हो जाएगी। इसके बाद यदि सपा आगामी विधानसभा चुनाव के बाद सत्ता में नहीं आती है, तो विधान परिषद में बहुमत होने की वजह से कई विधेयक को पास करना सरकार के लिए आसान नहीं होगा।

फोटोः निर्विरोध जीत के बाद जश्न मनाते हुए सपा के एमएलसी और कार्यकर्ता।