Wednesday, September 8, 2021

योगी सरकार का बड़ा फैसला, अब नौकरी के लिए सालों नहीं करना होगा इंतजार !

Lucknow. उत्तर प्रदेश में सरकारी नौकरी के इंतजार में बैठे युवाओं के लिए अच्छी खबर आने वाली है। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ऐसी व्यवस्था करने जा रहा है कि सरकारी नौकरियों के लिए होने वाली भर्तियां अब तय कार्यक्रम के मुताबिक होंगी।

नौकरी

जानकारी के मुताबिक, अब जॉब वैकेंसी से पहले कब रिजल्ट आएगा और कब तक नियुक्ति पत्र बांट दिया जाएगा इसका टाइम टेबल पहले से तय होगा। आयोग का मानना है कि तय समय में भर्तियां होने से धांधली की संभावना न के बराबर होगी।

रिजल्ट से लेकर नियुक्ति तय समय में

उत्तर प्रदेश में अभी तक सरकारी नौकरियों के लिए होने वाली भर्तियों में केवल आवेदन से लेकर परीक्षा कराने तक का कार्यक्रम पहले से तय होता है। रिजल्ट जारी करने और नियुक्ति पत्र देने की तारीख तय नहीं होती है। इसके चलते भर्ती प्रक्रिया सालों-साल तक चलती रहती है और आवेदन के बाद परीक्षा देने वाले युवाओं को लंबा इंतजार करना पड़ता है।

आयोग का मानना है कि भर्ती प्रक्रिया में देरी होने की वजह से धांधली की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए आवेदन के साथ परीक्षा और रिजल्ट जारी करते हुए नियुक्ति पत्र देने का कार्यक्रम पहले से तय होना चाहिए। इससे भर्ती में धांधली की संभावना खत्म होगी और आयोग की साख भी अच्छी होगी।

युवाओं को मिलेगी राहत

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग का मानना है कि तय समय में भर्ती प्रक्रिया पूरी होने से युवाओं को बड़ी राहत मिलेगी। मसलन योग्य अभ्यर्थियों को कई भर्तियों के लिए समकक्ष पदों के लिए बार-बार आवेदन नहीं करना पड़ेगा। मौजूदा समय तय समय में भर्तियां न होने की वजह से युवा लगातार आवेदन करता रहता है। इससे उसका बेजा पैसा भी खर्च होता है। आयोग का मानना है कि तय समय से भर्तियां होने से युवाओं को बड़ी राहत मिलेगी और उसका समय और पैसा दोनों बचेगा।

विभागों में खाली नहीं रहेंगे पद

भर्ती प्रक्रिया तय समय में होने और नियुक्ति पत्र बांट दिए जाने से सरकारी विभागों में सालों-साल पद भी खाली नहीं रहेंगे। विभागों का अमूमन यही रोना होता है कि पद रिक्त होने से काम का बोझ बढ़ रहा है। इसीलिए आयोग चाहता है कि सरकारी विभागों की नियुक्तियों में किसी तरह से देरी न हो। आयोग सदस्यों के बीच जल्द ही इस प्रस्ताव को विचार-विमर्श के लिए रखे जाने की तैयारी है।